सहायक शिक्षक और प्रधान पाठकों ने निकाली विसंगति न्याय पद यात्रा, मुख्यमंत्री के नाम सौंपा गया ज्ञापन..

शेयर करें...

मुंगेली/ वेतन विसंगति को लेकर जिले में छत्तीसगढ़ सहायक शिक्षक समग्र शिक्षक फेडरेशन द्वारा अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर न्याय यात्रा निकाली गई। इनकी मांग में प्रथम नियुक्ति तिथि से सेवा की गणना करते हुए वेतन विसंगति को दूर करने की बात शामिल है। इसे लेकर जिला स्तर पर भी क्रमिक आंदोलन किया जा रहा है।

मुंगेली जिले में 10 मार्च को आगर क्लब में क्रमिक हड़ताल आयोजित किया गया। सहायक शिक्षक और प्रधान पाठक बड़ी संख्या में आंदोलन में शामिल हुए। सहायक शिक्षक समग्र शिक्षक फेडरेशन के प्रांतीय पदाधिकारी भी मौजूद रहे, जिला अध्यक्ष भूपेंद्र बंजारे, मनोज कश्यप की अगुवाई में न्याय यात्रा निकाली गई है। आगर क्लब खेल मैदान मुंगेली से रेस्ट हाउस तक न्याय पद यात्रा रैली के माध्यम से सहायक शिक्षकों की वेतन विसंगति को लेकर संयुक्त कलेक्टर नवीन कुमार भगत को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा गया।

संगठन के पदाधिकारी अभिजीत तिवारी, राजेश्वर लुनिया, राजेंद्र नवरंग ,भूपेंद्र बंजारे, लक्ष्मीकांत जडेजा,अजय साहू, जगदीश टंडन, अखिलेश शर्मा, निलेश दुबे ने संयुक्त रूप से बताया कि मौजूदा सरकार ने सत्ता में आने के पूर्व स्वयं माना था कि सहायक शिक्षकों के साथ वेतन विसंगति व्याप्त है। सरकार ने अपने घोषणा पत्र में भी वेतन विसंगति दूर करने की बात भी कही थी। लेकिन
आज तक छत्तीसगढ़ सरकार से सिर्फ आश्वासन ही मिलता आया है। वेतन विसंगति अभी तक दूर नहीं हुई है। संगठन के कार्य. जिला अध्यक्ष मनोज कश्यप व जिला सचिव मनोज अंचल ने बताया कि अनिश्चितकालीन आंदोलन पूरे प्रदेश में की गई। यह आंदोलन प्रथम चरण में ब्लॉक स्तर पर 5 दिनों तक हुआ। इसके बाद प्रांतीय निर्णय के अनुसार अगले चरण में मुख्यमंत्री निवास का घेराव किया गया था। परीक्षा के समय छात्र हित को ध्यान में रखते हुए जिले में क्रमिक आंदोलन के रूप से वेतन विसंगति न्याय पद यात्रा निकाली गई। जिसमें माया सिंह राजपूत जिलाध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ,राधिका देवांगन ब्लॉक अध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ, विलिन बेन,मंजू पाण्डे, साधना वस्त्रकार,पूजा तिवारी, भारती मरावी, संध्या देवांगन, राधिका देवांगन ,कन्याकुमारी पटेल ,अंजू मति ध्रुव, सरला महिलांग, इंदु खांडेकर, गरिमा ताम्रकार, नीली खेस, होमेश्वरी ठाकुर, मीना श्रीवास्तव, दुर्गा मरावी ,सुनीता खुसरो, अनीता ठाकुर, आरती श्रीवास, अंकिता कश्यप, संतोष बघेल ,अजय जयसवाल ,सत्येंद्र पटेल, कमलेश कुमार पटेल ,गीता सिंह ध्रुव, ताराचंद सोनवानी ,लखनलाल साहू ,टीकाराम चंद्राकर ,लक्ष्मी कुमार ध्रुव, कृष्ण कुमार यादव , दरेश बंजारे,आशीष जायसवाल, मनीष जायसवाल,भूषण प्रसाद, कैलाश पैंकरा,धनी रात्रे, अजय कुमार ध्रुव, नरेश दुबे, शंकर दयाल शर्मा,तेज प्रताप क्षत्रिय,नंद कश्यप, सुरेश प्रसाद बंजारे , भागवात जोशी , गोकुल कुमार पटेल, ,मुकेश कुमार, घनश्याम शर्मा,मोहन श्रीवास, जीत दिवाकर , नरेश सोनवानी,अशोक कुमार यादव, धर्मेश पटेल, ओमप्रकाश साहू,टीकाराम ध्रुव, दशरथ लाल कल्याण, नरेंद्र राठौर, अभिषेक तिवारी, उपेश दीक्षित, इंद्रराज पाटले, ब्यास गेंदले, गोविंद पटेल,घनश्याम लहरे राजकमल गेंदले, रविकांत गोस्वामी, सलिल जांगडे, श्रीराम जोगवंशी,तुकाराम खांडे, ओंकार बर्मन, आदि सहित जिला के हजारों शिक्षक शामिल हुए।

Scroll to Top