विधानसभा चुनाव को लेकर मंत्री टीएस सिंहदेव ने दी प्रतिक्रिया : बोले – विधानसभा चुनाव में मतदाता की भूमिका में रहूंगा, मुख्यमंत्री के लिए मेरा नंबर नहीं लगा, आगे हाईकमान की मर्जी..

शेयर करें...

बिलासपुर/ स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने विधानसभा चुनाव 2023 में अपनी भूमिका को लेकर कहा कि, छत्तीसगढ़ का नागरिक हूं, उसी रूप में भाग लूंगा। मुख्यमंत्री के लिए अभी तक मेरा नंबर तो नहीं लगा है। और जो मुख्यमंत्री रहते हैं आगे भी संभावना उन्हीं की रहती है।

सिंहदेव बोले– मुख्यमंत्री के लिए टीएस बाबा का तो नंबर नहीं आया। आमतौर पर मुख्यमंत्री ही पार्टी को लीड करते हैं। लेकिन, आगे हाईकमान की मर्जी। मेरा प्रयास लोगों के बीच काम करना है, जो चलता रहेगा।

बिलासपुर को मिल सकता है AIIMS

शुक्रवार को बिलासपुर पहुंचे सिंहदेव ने कहा, केंद्र ने फैसला लिया है कि छोटे राज्यों में एक-एक एम्स खुलेगा। और बड़े राज्यों में एक से अधिक एम्स खोलने पर विचार किया जा रहा है। रायपुर एम्स पर काम का बोझ बढ़ गया है। यहां पर छत्तीसगढ़ के अलावा आसपास के राज्यों से भी मरीज आते हैं। इसके चलते मरीजों को बिस्तर तक नहीं मिलता। उन्होंने प्रदेश में दूसरा एम्स खोलने के लिए बिलासपुर को सबसे बेहतर विकल्प बताया।

सिंहदेव ने कहा, बिलासपुर को एम्स मिलने से तीन संभाग के लोगों को लाभ मिलेगा। हालांकि इस पर फैसला केंद्र सरकार को लेना है। अभी केंद्र की तरफ से इस पर कोई फैसला नहीं लिया गया है। राज्य सरकार की भूमिका बस इतनी होगी कि अगर छत्तीसगढ़ में एम्स खुलने का प्रस्ताव आया तो वह इसके लिए बिलासपुर का नाम प्रस्तावित करेगी।

राहुल गांधी की यात्रा सफल रही


राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा और हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा सफल हुई है। आगे पूर्व से पश्चिम जोड़ो यात्रा भी निकल सकती है। भाजपा की उत्तर पूर्व के राज्यों में जीत के सवाल पर कहा कि, महाराष्ट्र और मेघालय की हार भी बीजेपी को याद रखना चाहिए।

विधायक की मांग पर विपक्षी दल के नेताओं ने किया समर्थन
नगर विधायक शैलेष पांडेय ने बिलासपुर में एम्स खोले जाने की मांग उठाई, जिसका नेता प्रतिपक्ष नारायण चंदेल विधायक धर्मजीत सिंह और पूर्व नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने समर्थन किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी इसके लिए सहमति दे दी है। शुक्रवार को छत्तीसगढ़ विधानसभा सत्र में विधायक शैलेष पांडेय ने बिलासपुर में बेहतर स्वास्थ सुविधा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से एम्स की स्थापना का मुद्दा उठाया।

Scroll to Top